Hindi Workshop

423 (Excluding GST)

राष्ट्रभाषा हिंदी के हित में 10-दिवसीय हिंदी कविता एवं कहानी लेखन की कार्यशाला का ऑनलाइन आयोजन किया जा रहा है। इस कार्यशाला में देश के प्रतिष्ठित रचनाकारों एवं कहानीकारों द्वारा प्रशिक्षण दिया जाएगा। कार्यशाला में कविता लेखन के मुख्य बिंदु:

◆  कविता का सृजन ◆  कविता क्या है? ◆  कविता की उत्पत्ति  ◆  कविता की आवश्यकता ◆  मनुष्य और कविता ◆  कविता के सामाजिक सरोकार ◆  कविता के धार्मिक सरोकार ◆  कविता के राजनैतिक सरोकार ◆  कविता के रूप ◆  कविता का शिल्प ◆  कविता के आंदोलन ◆  कविता में हास्य व्यंग ◆  कविता में नाटक ◆  छात्र-छात्राओं में कविता के प्रति रुचि का प्राकट्य. (The workshop fee excludes GST. Please see below for more details.)

Out of stock

SKU: PDL0001-2 Category:
Add to Wishlist
Add to Wishlist

Description

जैसा कि आपको ज्ञात है; कहानी सुनाना सीखने-सिखाने की सबसे पुरानी और शक्तिशाली विधि है। दुनिया भर की संस्कृतियों ने हमेशा से ही विश्वास, परंपराओं और इतिहास को भविष्य की पीढ़ी तक पहुंचाने के लिए कथाओं/कहानियों का उपयोग किया है। कहानियां कल्पनाशीलता को बढ़ाती हैं, कहानी कहने और सुनने वाले के बीच समझ स्थापित करने के लिए सेतु का काम करती है और बहुसांस्कृतिक समाज में श्रोताओं के लिए समान आधार तैयार करती है।

कहानी लेखन कार्यशाला का उद्देश्य मनोरंजन के साथ साथ समसामयिक जीवन को समझने, उसमें अपनी भूमिका को देखने, पात्रों के माध्यम से विभिन्न परिस्थितियों को समझने व उसके अनुसार व्यवहार करने की समझ विकसित करना है। एक अच्छी कहानी लिखकर उस कहानी-कथन को “ भाषा , कहानी के उतार–चढ़ाव , गति , आदि के उपयोग से श्रोताओं के लिए किसी कहानी की घटनाओं और चित्रों को सजीव बनाने की कला का वर्णन कार्यशाला में विषय विशेषज्ञों द्वारा किया जायेगा।

Inaugural Chief Guest – Nalini and Kamalini: Internationally renowned Kathak Duo
They are devoted disciples of Kathak maestro, Guru Jitendra Maharaj of
Varanasi Gharana, the trendsetter of temple style of Kathak dancing.
Born in Agra, brought up and educated in Delhi both Nalini and Kamalini
have extensively performed in India and abroad.

 

Mr. Surendra Pal will be the closing ceremony guest of the workshop
Surendra Pal is an Indian film and television character actor who works in
Hindi films and TV series. He is best known for his roles of Dronacharya in Mahabharat,
Amatya Rakshas in Chanakya, Tamraj Kilvish in Shaktiman and
Daksha in Devon Ke Dev – Mahadev.

 

Firoz Khan will address on 12th August 
Arjun Firoz Khan is an Indian actor, best known for playing the character
of warrior prince Arjuna in B.R. Chopra’s epic television series Mahabharat.
After finding success with this role, Firoz Khan changed his name to Arjun
professionally. He has also acted in a number of Hindi language movies.

 

Other Speakers:

गौरी मिश्रा
अंतरराष्ट्रीय कवियत्री
Dt. 10/7/2020
Topic : मनुष्य और कविता

 

 

Dr shlesh Gautam
कवि/साहित्यकार एवं असिस्टेंट प्रोफेसर
बी.ए.एलएल.बी. विधि विभाग इलाहाबाद विश्वविद्यालय
Date : 5/7/2020
Topic:
कविता का सृजन, कविता क्या है?, कविता की उत्पत्ति

 

Mr. Shamoil Ahmad
Story Writer & Novelist
Dt. 6/7/2020

 

 

Dr. Sanatan Mishra
Author of मलंग , सस्ती किताब
Rex Karamveer award blue medal awardee
Dt. 7/7/2020

 

 


Prof. Anita Gopesh

सुप्रसिद्ध कथा लेखिका एवं रंगकर्मी
Dt. 8/7/2020

 

 


Nupur kapoor

लोकप्रिय मंच संचालक
Dt. 13/07/2020
Topic : हिंदी में मंच संयोजन एवं संचालन

 

शैलेन्द्र मधुर
राष्ट्रीय कवि
Dt. 11/07/2020
Topic : कविता के राजनीतिक, धार्मिक, सामाजिक सरोकार

 

 

आभा श्रीवास्तव
राष्ट्रीय कवियत्री
Dt. 12/07/2020
विषय : कविता का शिल्प, कविता के आंदोलन

 

 

Abhishek Tripathi
Founder : Local Prayagraj
Dt. 14/07/2020
Topic : समाचार लेखन